Uncategorized क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान

क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

Written by Kalvi Bhoomi


क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

1):-चलिए शुरू कर दे आज का ब्लॉक आज के ब्लॉग में जानेंगे कि क्या फायदे हैं और क्या नुकसान है मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाने का क्या सही होगा कि आप अलग-अलग बैंक में अपना अकाउंट खुलवाए और अपने निजी डॉक्यूमेंट और जानकारी बैंकों में दें तो क्या फायदे होंगे और क्या नुकसान होगे जानते हैं इस ब्लॉग में क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

2):-तो लोग क्यों खुलवा ते मल्टीपल बैंक के अकाउंट और कुछ लोग सेविंग अकाउंट खुलवा दे तो कुछ लोग करंट अकाउंट खुलवा दे और क्या रीजन होते हैं तो कुछ लोग कुछ इन्वेस्टमेंट करने के लिए अलग अलग अकाउंट खुलवा दें ताकि कुछ भी इन्वेस्टमेंट करना हो तो उस बैंक में से पैसे उठाकर इन्वेस्ट कर सकते हैं, कुछ लोग अपने कॉलेज की या स्कूल की स्कॉलरशिप के लिए स्पेशली अकाउंट खुला तो है, तो कुछ लोग जो बैंक में उनका खाता है उसमें इंटरेस्ट कब मिलता हो उसकी वजह से दूसरी अलग-अलग बैंकों में खाता खुलवाने जाते हैं, ऐसे बहुत सारे रीजन और कारण रहते हैं जिसकी वजह से लोग अलग-अलग बैंकों में खाता खुलवाने जाते हैं क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?


क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

3):-तो चलिए अब बात करते हैं क्या है उसके फायदे और नुकसान

कुछ लोगों का किए क्वेश्चन यह प्रश्न रहता है की अलग-अलग बैंक अकाउंट खुलवाने से इनकम टैक्स रिटर्न में फायदा मिलता है या नहीं मिलता है पहले तो यह जान ले की अलग-अलग बैंक अकाउंट रखने से इनकम टैक्स में कोई भी फायदा आपको नहीं मिलता है क्योंकि अलग-अलग बैंक अकाउंट में आपके डॉक्यूमेंट के साथ-साथ आपका पैन कार्ड भी लिंक हुआ है तो सरकार के पास यह जानकारी रहती है कि आपके बैंक अकाउंट में क्या प्रक्रिया चल रही है जिसकी वजह से उनको आपको अकाउंट को आसानी से चेक कर सकते और पैन कार्ड से अब का पूरा स्टेटमेंट निकाल सकते हैं एक पहले तो यह जान ले कि बहुत सारे बैंक अकाउंट आप ना रखें क्योंकि आप उसको पहले तो संभाल नहीं सकेंगे उसके डॉक्यूमेंट उसके एटीएम डेबिट कार्ड चेक बुक वगैरह बहुत सारी चीजों को आप संभाल नहीं पाएंगे जिसकी वजह से बहुत सारी आपको दिक्कत है आ सकती है कुछ लोग पूछते की इनकम टैक्स रिटर्न की आर्ट आरटीआई फाइल में हमें नुकसान होगा या फायदा होगा तो अब एक बात यह जान ले की आपको इनकम टैक्स रिटर्न में आरटीआई फाइल में कोई भी फायदा होने वाला नहीं है क्योंकि जब आप फाइल के लिए अप्लाई करोगे तो उसके डॉक्यूमेंट में बहुत उलझ जाओगे जिसकी वजह से अब को बहुत ही दिक्कत या सकती है

क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

4):-अगर मैं अपनी बात करो तो मैं खाली तीन ही बैंक अकाउंट रखता हूं 1) एक में इन्वेस्टमेंट के लिए रखता हूं 2) एक में सैलरी के लिए रखता हूं और 3) तीसरा अकाउंट मैं अपने खर्चों के लिए रखता हूं मैं और भी अकाउंट रख सकता हूं लेकिन मेरा उतना ज्यादा  मेरी इतनी जरूरत नहीं रहती जिसकी वजह से मैं और अकाउंट खुलवा था नहीं हूं इसलिए मैं भी यही सलाह देना चाहूंगा कि आप भी ज्यादा बैंक अकाउंट ना रखें क्योंकि आप उसे संभाल नहीं पाएंगे उसके डॉक्यूमेंट वह सब आप संभाल नहीं पाएंगे और अगर आप भी मेरी तरह दूसरे बहुत सारे तीन चार या पांच अकाउंट रखते हैं तो उसका भी कोई आपको फायदा होने वाला नहीं है क्योंकि आप बैंक में अगर बैंक के हिसाब से आपने पैसे रखे हुए नहीं है उसके पैसे के रखने के लिमिट के हिसाब से पैसे नहीं रखे हुए हैं तो उस पर चार्ज लगेगा और बहुत सारे चार्ज लगेंगे जिससे आपको कोई बेनिफिट होने वाला नहीं है और अगर आप उसमें खुलवा के ट्रांजैक्शन भी नहीं करेंगे तो आप का अकाउंट को होल्ड पर रख देता है जिसकी वजह से आपको फिर से बैंक में अपने अकाउंट की केवाईसी करवानी पड़ेगी और फिर से बैंक अकाउंट रिन्यू करवाना पड़ेगा जिसका कभी-कभी चार्ज भी कुछ कुछ बैंकों में देना पड़ता है इसलिए मेरी सलाह तो यही है कि आप ज्यादा बैंक अकाउंट ना रखें इससे आपको इनकम टैक्स रिटर्न के फाइल में कोई फायदा होने वाला नहीं है

क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?


5):-चलिए अभी मैं आपके पास मैन टॉपिक पर आता हूं क्योंकि मैंने अलग-अलग टॉपिक पर बात कर ली पहले तो यह जान ले कि आप यह सोच रहे हो कि अलग-अलग बैंक अकाउंट से आप अपना इनकम टैक्स रिटर्न बचा सकते हैं तो यह आप भूल जाए क्योंकि सरकार के पास इसकी सारी जानकारी रहती है इसलिए आपको इससे कोई फायदा होने वाला नहीं है और आप यह सोच रहे हो कि आरटीआई फाइल में भी आपको बेनिफिट होगा तो यही आपकी बहुत बड़ी गलती हुई होगी इसलिए अगर आप अलग-अलग अकाउंट खुलवाया है और बिन जरूरी अकाउंट खुलवाया है या उसका कोई काम नहीं आ रहा है ऐसे बैंक अकाउंट को आपको तुरंत ही बंद कर देना चाहिए

क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

6):- मेरी भी सलाह यही रहेगी कि आप मेरी तरह तीन ही अकाउंट खुलवाए 1) एक अकाउंट आप सेविंग के लिए रखे  2) दूसरा अकाउंट से सैलरी के लिए रखें और 3)तीसरा अकाउंट अपने खर्चों के लिए रखें जिस से क्या होगा कि आप अपने पैसे को मेंटेन कर पाएंगे और इसे आपको पूरा हिसाब भी मिलता रहेगा कि कितना अपने सेविंग किया है और कितना अपने खर्चा किया है और आपकी कितनी हर महीने सैलरी आ रही है जिसकी वजह से आपको कोई दिक्कत होने वाली नहीं है और बैंक में आपके ट्रांजैक्शन भी होते रहेंगे जिसकी वजह से बैंक के अकाउंट को होल्ड पर रख नहीं सकेगा तो आपका ही यह फायदा होने वाला है और बहुत बढ़िया टेक्निक भी बोली जा सकती है जो कि आपको पैसे बचाने में भी और आपको आपके इस आपको भी मेंटेन करने में एक सहित ट्रिक बोल सकते हैं

क्या मल्टीपल बैंक अकाउंट खुलवाना चाहिए या नहीं क्या है उसके फायदे और नुकसान ?

7):-तो आशा करता हूं कि आज का यह ब्लॉग आप सबको पसंद आया होगा अगर पसंद आया हो तो इसे ऊपर अपने व्हाट्सएप और फेसबुक में अपने दोस्तों को शेयर करें जिससे यह जानकारी आपके दोस्तों को भी मिल सके और उनको भी फायदा पहुंचा सके

:-I HOPE LIKE THIS BLOG

:- THANK YOU 😊👍

About the author

Kalvi Bhoomi